Hadith: Padosiyo’n ka Haq

*بِسْمِ اللٰہِ الرَّحْمٰنِ الرَّحِیْمِ*

ह़ुज़ूर नबिय्ये अकरम ﷺ ने फ़रमाया:
“वोह शख़्स़ कामिल मोमिन नहीं जो ख़ुद तो सेर हो और उस का पड़ोसी उस के पॅहलू में भूका पड़ा रहे।”
[अबू या’ला, मुस्नद, रक़म: 2699]

ह़ुज़ूर नबिय्ये अकरम ﷺ ने फ़रमाया:
“वोह आदमी मेरे ऊपर ईमान न लाया जिस ने ख़ुद तो रात सेर हो कर बसर की मगर उस का पड़ोसी उस के पॅहलू में भूका सोया और येह बात उस के इ़ल्म में भी थी।”
[त़बरानी, अल मु’जमुल कबीर, रक़न: 751]

ह़ुज़ूर नबिय्ये अकरम ﷺ ने फ़रमाया:
“जिस बस्ती में किसी शख़्स़ ने इस ह़ाल में स़ब्ह़ की कि रात भर भूका रहा उस बस्ती से अल्लाह की ह़िफ़ाज़त और निगरानी का वा’दा ख़त्म हो जाता है।”
[अह़मद बिन हन्बल, अल मुस्नद, रक़म: 4880]


Advertisement