Hadith Ibn e Majah 4298

हज़रत अबू हुरैरा रज़ियल्लाहु अन्ह से रिवायत है के रसूलल्लाह सल्लल्लाहु अलैहिवसल्लम ने फरमाया: ।। जहन्नम में बद नसीब ही जाएगा- अर्ज की गई या रसूलल्लाह सल्लल्लाहु अलैहिवसल्लम बद नसीब कौन है?

इरशाद फ़रमाया: जो अल्लाह तआला की फ़रमाँबरदारी के काम न करे और उसकी न फ़रमानी न छोड़े। इब्ने माजा हदीस 4298

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s