Sayyedul Aabideen Yaani Tamam Ibadat Guzaro Ka Sardar.

Huzoor Tajdar-e-Kainat Muhammad e Mustafa (صلى الله عليه وآله وسلم) Ne Irshad Farmaya Ke Qayamat Ke Din Jab Nida Dee Jayegi Ke Sayyedul Aabideen Yaani Tamam Ibadat Guzaro Ka Sardar Kaha Hai Toh Mere Hussain Ka Ye Beta Khada Hoga.* . *Allahu Akbar Subhan Allah * . Reference : – Asakir, Taarikh Madina ad-Damishq, 54:276 – Ibne Jauzi, Tazkiratul Khawaas, 303, – Ibne Taimiya, Minhaj us Sunna al-Nabawiyyah, 4:11 – Ibne Hajar Makki, As sawa aqal mahraqah, 2:586 – Shablanji, Noor al Absar fee Manaqib Aale Baytin Nabi al-Mukhtar: 288 – ‘Sahaba-e-Kiram RadiAllahu Anhum aur Aaimma-e-Ahle Bayt Alaihimussalam se Imam-e-Aazam RadiAllahu Anhu ka Akhze Faiz’ Page, 82,83 . السلام عليك يا سيد الساجدين السلام عليك يا زين العابدين السلام عليك يا ابن سيد الشهداء . *اَللّٰھُمَّ صَلِّ عَلَی سَیِّدِنَا مُحَمَّدٍ وَ عَلَی اٰلِ سَیِّدِنَا مُحَمَّدٍ وَ بَارِکْ وَ س٘لِّمْ*

क्या आप जानते है हज़रत सय्यद बदीउद्दीन क़ुत्बुल मदार जिंदाशाह मदार रज़िअल्लाहु अन्हों कौन हैं

*क्या आप जानते है हज़रत सय्यद बदीउद्दीन क़ुत्बुल मदार जिंदाशाह मदार रज़िअल्लाहु अन्हों कौन हैं?*

*1- आप तबे ताबईन हैं (जिसने ताबईन का ज़माना पाया हो और ताबईन वो जिन्होंने सहाबा का ज़माना पाया हो और इन सबको देखा हो*

(बहरे ज़क्खार तज़किरातुल मुत्तक़ीन )

*2 – हिन्दोस्ताँ के पहले सूफ़ी मुबल्लिगे इस्लाम हैं जो 282 (सरकार ग़रीब नवाज़ से approximately 300 साल पहले ) हिजरी मे हिन्दोस्तान आये*

(बहरे ज़क्खार तज़किरातुल मुत्तक़ीन, मदारे आज़म )

*3 – आप ऐसे आले रसूल हैं के आपका नसब सिर्फ 10 वास्तों के बाद मोहम्मदे अरबी सल्लल्लाहु अलैहि वस्सल्लम से मिल जाता है*

(मिररतुल अनसाब, मदारे आलम, तारीख़े मदारे आलम, मदारे आज़म, तज़किरातुल मुत्तक़ीन, आदि)

*4 – आपको निस्बते उवैसिया हासिल थी जिसकी वजह से हिन्दोस्ताँ की हर ख़ानक़ाह ने आपसे इज़ाज़तों ख़िलाफ़त हासिल करके आपकी निस्बत हासिल की*

(लतायेफे अशरफी, सफ़ीनतुल औलिया, तज़किराये मशाईखे क़ादरिया रज़विया, रिसालये रज़विया, सियारूल मदार )

*5 – आपका सिलसिला सिर्फ 4 वास्तों के बाद सरकारे रिसालत सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम तक पहुँचता है और आपका सिलसिला 5 या 6 वास्तों से सरकारे रिसालत सल्लल्लाहो अलैहि वसल्लम तक पहुँचता है*

(अख़बारूल अखयार )

*6 – आपने 556 साल का रोज़ा रक्खा यानि आप मक़ामे समदियत (बेनियाज़ी का मक़ाम ) पर फ़ाएज़ थे*
(अख़बारूल अखयार ) *आपने गौसे आज़म रज़िअल्लाहु ाँहों ) 200 साल पहले बगदाद मे दीं की तब्लीग़ की और नहरे दजला ऑफि की करामात की वजह से आज तक नहीं सुखी*

(क़िताबुज ताज, इमाम सीयुति रज़ि )

*8 – आपने ग़ौसे आज़म सरकार के जलाल को जमाल मे बदला और उनकी बहन बीबी नसीबा को आप ही की दुआ से 2 औलादें मिली जो आज सय्यद मोहम्मद जमाल उद्दीन और सय्यद अहमद के नाम से जातिनगर हिलसा बिहार और आजमगढ़ मे मरजए ख़लाक़ हैं*

*9 – आपके चेहरे पर 7 नक़ाब पड़े रहते थे अगर एक भी नक़ाब उठ जाता था तो मख़लूक़े खुदा बेखुदी के आलम मे सजदा रेज़ हो जाया करती थी और कलमा पढ़ लेती थी*

(अख़बारूल अखयार )

*10 – आप ठोकर से मुर्दे ज़िंदा कर देते थे*
(बहरे ज़क्खार)

*11- आप के एक लाख़ से ज़्यादा ख़लीफ़ा पूरी दुन्याँ में मौजूद हैं*

(तज़किरातुल मुत्तक़ीन)

*12 – आप ने पूरी दुन्याँ के तक़रीबन हर मुल्क का दौरा करके लोगों को शरीयत और इस्लाम की तालीम दी*

(बहरे ज़क्खार, सफर नामा इब्ने बतूता )

*13 – हिन्दोस्तान में आपके 1442 चिल्ले हैं और पूरी दुन्याँ में हज़ारों चिल्ले हैं*
*आलम ए इंसानियत को कुतबे वहदत शमशुल अफ्लाक़ फरादुल अफराद शहेनशाहे औलिया ए किबार हुजूर सय्यदना मुर्शिदना अहमद बदीउद्दीन कुतबुल मदार ज़िन्दा शाह मदार मदार उल आलमीन रज़ी अल्लाहु अन्ह का 605वाँ उर्से पाक बहुत बहुत मुबारक हो*

*कौन कुतबुल मदार ???*👇🏻

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसकी आमद 1 शव्वाल 242 हिजरी में हुई*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जो फात्मी हसनी हुसैनी सय्यद हैं*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसने दुनियां में आते ही कलमा ए शहादत और अल्लाह को सजदा किया*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसने 14 साल की उम्र में तमाम उलूम हासिल कर लिए*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसको ताबई होने का शर्फ हासिल है*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसने 259 हिजरी में सुलतान उल आरफीन सरकार बायज़ीद बुस्तामी उर्फ तैफूर शामी से इजाज़त ओ ख़िलाफत हासिल फरमाई*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसने 282 हिजरी में सबसे पहले आकर हिन्दुस्तान में इस्लाम की तबलीग़ो इशाअत फरमाई*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसके चेहरे पर 7 नकाब रहते थे*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसके चेहरे से अगर एक नकाब हट जाता था तो मख्लूक़ ए खुदा बेखुदी के आलम में सजदे में चली जाती थी*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसकी उम्र शरीफ 596 साल हुई*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसने अपनी 556 साला ज़िंदगी रोज़ा रख कर गुज़ारी*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसको अल्लाह ने मक़ाम ए कुतबुल मदार और मका़म ए सम्दियत पर फाईज़ किया*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसको रसूल ए अकरम सल्लाहो अलैहि वसल्लम ने मदार उल आलमीन का ख़िताब अता फरमाया*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसने तकरीबन पूरी दुनिया में इस्लाम की तबलीग़ो इशाअत फरमाई*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिनकी दुआ से सरकार मस्ऊद सालार गाज़ी की विलादत हुई*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसकी 12 साल तक सरकार मख़्दूम अशरफ जहांगीर सिम्नानी ने ख़िदमत फरमाई और मदार ए पाक से ख़िर्का ए खिलाफत हासिल फरमाई।*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसने हिन्दुस्तान के 1442 मकामात पर चिल्ले फरमाए*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसका फैज़ान तकरीबन हिन्दुस्तान की सभी खानकाहों में मौजूद हैं।*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसके बेशुमार खुल्फा पूरी दुनिया में मौजूद हैं।*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसके दरबार से आज भी लाखों लोगों को सुकूनो क़रार मिलता है*

👉🏻 *वो कुतबुल मदार जिसने 596 साल ज़िन्दगी पा कर 838 हिजरी में इस दुनियां ए फानी को अलविदा कहा*