Qaul e Mawla Ali Alahissalam

आदाबके ज़रिये अपनी इज़ज़तकी हिफाज़त करो और इल्मके ज़रिये अपने दीनकी हिफाज़त करो.

फरमाने मौला अली A S

अख्लाक वो चीज़ है जिसकी कुछ कीमत नहीं देनी पड़ती है, मगर उससे हर चीज़ खरीदी जा सकती है

फरमाने मौला अली A S

अवाम वो आइना है जिसमें इन्सान अपने अख्लाक को देखता है. खूबियां दोस्तोंके ज़रिये और बुराइयां दुश्मनों के ज़रिये.

फरमाने मौला अली A S

खुश-अख्लाक लोगों से खुश-अख्लाकी से पेश आना कमाल नहीं, मगर बद-अख्लाक लोगों से खुश-अख्लाकी से पेश आना कमाल है.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s