Madine ke moti 258

हदीस ए रसूल ﷺ ए करीम
अगर तुम मेरे बाद देखो की अलीع एक रास्ते पर चल रहे है और तमाम औलाद ए आदमع उनको छोड़ कर किसी दूसरे रास्ते पर चल रही है तो तुम मेरी ये वसीयत याद रखना की तुम तमाम औलाद ए आदमع को छोड़ देना, मगर अली का साथ कभी ना छोड़ना, क्योकि अलीع तुम्हे कभी गुमराह नही होने देंगे
फ़रमान ए आक़ा रसूल ए करीम ﷺ

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s