Hadith on बच्चों को ग़लत गिज़ा से बचाना

*↳बच्चों को ग़लत गिज़ा से बचाना!?↲*

हज़रत अबू हुरैरा रज़िअल्लाह तआला अन्हू से रिवायत है फरमाया हज़रत हसन बिन अली रज़िअल्लाह तआला अन्हो ने एक खजूर सदक़े की खजूरों में से अपने मुंह में डाल ली हुजूरﷺ ने फरमाया रुको रुको उसे बाहर फेंको उसे बाहर फेंको क्या आपको मालूम नहीं कि हम सदक़ा नहीं खाते।
*📗बुखारी 1491*

==>अब आप ज़रा ग़ौर फरमाइए जो लोग यह कहते हैं एक या दो बार से क्या होगा यह हम लोगों के लिए कितनी बड़ी तालीम है कि हम अपने बच्चों के मुंह में नाजायज़ खाने का एक लुकमा भी ना जाने दे आज बच्चे कोई भी लिबास पहन लें लेकिन हम उनको रोकते ही नहीं हैं और तो और बलके हम अपने बच्चों को उरयानियत वाला लिबास पहने देखकर खुश होते हैं जब के हमको तो यह करना चाहिए जो एक सहाबी ए रसूल ने किया हज़रत अब्दुल्लाह इब्ने मसूद ने लड़के पर रेशम की एक कमीज देखी तो आपने उसको फाड़ दिया और फरमाया यह औरतों के लिए है
*📗इब्ने अबी शैबा*

*क्या आज हम अपने बच्चों की ऐसी तरबीयत कर रहे हैं?*

⚡️घर को आलात लहव ओ लयेब से पाक रखना ज़रूरी है अगर वह हमारे घरों में रहेंगे तो हमारे बच्चों पर इसका बुरा असर ही पड़ेगा अपने घरों में कुरआन की तिलावत का एहतमाम करों जिस घर में कुरान की तिलावत हो उससे श्यातीन भाग जाते हैं अपने घरों को कब्रगाह ना बनाओ बेशक जिस घर में सूरह बक़रा की तिलावत होती है उस घर से शैतान भाग जाता है
*📗मुस्लिम*

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s